वीरेन्द्र सिंह मस्त, सांसद लोकसभा

          राष्ट्रीय अध्यक्ष, भाजपा किसान मोर्चा

 

वीरेन्द्र सिंह मस्त अपने छात्र जीवन से ही संघ परिवार से जुड़े रहे। भारतीय जनता पार्टी में बतौर भारतीय जनता युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष के रूप में अपना राजनैतिक सफर शुरू किया। 1991 में 10वीं लोकसभा के लिए चुने गए। 1991-92 में संसद की पब्लिक अंडरटेकिंग, ऊर्जा की स्टैंडिंग और कोयला मंत्रालय की कंसल्टेटिव  कमेटी के सदस्य बने।

      भारतीय जनता पार्टी ने उत्तर प्रदेश के किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष की जिम्मेदारी 1996 में सौंपी। वीरेन्द्र सिंह 1998 तक भाजपा किसान मोर्चा उत्तर प्रदेश के प्रदेश अध्यक्ष रहे। 1998 में वीरेन्द्र सिंह फिर से 12वीं लोकसभा के लिए चुने गए। 1998 से 99 तक संसद और कई मंत्रालयों की कमेटी के सदस्य रहे। स्टैंडिंग कमेटी विज्ञान और तकनीक, पर्यावरण और जंगल और गंगा एक्शन प्लान के लिए बनी उप कमेंटी के भी सदस्य रहे।

 

        वीरेन्द्र सिंह स्वदेशी विचार से शुरू से प्रभावित रहे। जानेमाने विचारक दत्तोपंत ठेंगड़ी के विचारों से प्रभावित रहे। 2000 से 2004 तक उत्तर प्रदेश स्वदेशी जागरण मंच के प्रदेश संयोजक रहे। 16वीं लोकसभा के लिए 2014 में फिर चुने गए और वर्तमान में भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के दायित्व का निर्वहन कर रहे हैं।

 
Share it now!